दिल्ली गणतंत्र दिवस समारोह में सम्मानित अतिथि के रूप में शामिल होंगी स्क्वाड्रन लीडर डॉ तूलिका रानी

लखनऊ, उजाला सिटी। नई दिल्ली में आयोजित गणतंत्र दिवस कार्यकर्म में सम्मानित अतिथि के रूप में लखनऊ की स्क्वाड्रन लीडर डॉ तूलिका रानी को बुलाया गया है केंद्र सरकार की ओर से उप महानिदेशक, प्रसार भारती, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा व्यक्तिगत आमंत्रण पत्र भेजकर देश के 75वें गणतंत्र दिवस समारोह/परेड की प्रत्यक्षदर्शी होने के लिए सम्मानित अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है। इसी के साथ 27 एवं 28 जनवरी को राष्ट्रीय महत्व के कुछ विशेष स्थलों का दौरा भी कराया जायेगा जिसमें सूचना एवं प्रसारण मंत्री के साथ आधिकारिक कार्यक्रम भी संभावित है। ज्ञात हो कि वर्तमान में लखनऊ निवासी स्क्वाड्रन लीडर डॉ तूलिका रानी पूर्व भारतीय वायु सेना अधिकारी, अंतराष्ट्रीय पर्वतारोही, अंतरराष्ट्रीय प्रेरणादाई वक्ता (टेड एक्स स्पीकर), पुरुस्कृत लेखिका एवं इतिहास की असिस्टेंट प्रोफेसर हैं। भारत, नेपाल, भूटान, ईरान, रूस, अफ्रीका आदि देशों में कुल 25 पर्वतारोहण एवं ट्रेकिंग अभियान कर चुकी तूलिका माउंट एवरेस्ट पर तिरंगा फहराने वाली उत्तर प्रदेश की प्रथम महिला, तथा ईरान स्थित एशिया के सर्वोच्च ज्वालामुखी दामावंद पर चढ़ने वाली प्रथम भारतीय महिला हैं। वायु सेना में दस वर्ष प्रशासनिक अधिकारी एवं सैन्य प्रशिक्षण अधिकारी के रूप में वह देश की प्रथम तीन महिला फाइटर पायलट सहित सैकणों अधिकारियों को आउटडोर सैन्य प्रशिक्षण दे चुकी हैं। युवाओं एवं महिलाओं के लिए मिसाल तूलिका को उनकी उपलब्धियों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा रानी लक्ष्मी बाई वीरता पुरस्कार एवं फिक्की द्वारा ग्लोबल वुमन अवार्ड सहित 19 पुरुस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। वह गत वर्ष जी २० सम्मेलन में भारत की अध्यक्षता के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा विभाग की जी २० ब्रांड एंबेसडर रह चुकी हैं, जिसके तहत उन्होंने प्रदेश के विभिन्न उच्च शिक्षा संस्थानों में 40 से अधिक व्याख्यान देकर भारत द्वारा जी २० अध्यक्षता करने के महत्व तथा इसमें युवाओं एवं महिलाओं की भूमिका पर जनचेतना का प्रसार किया। उसके पूर्व 2022 उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनावों में स्क्वाड्रन लीडर डॉ तूलिका रानी चुनाव आयोग के वोटर जागरूकता कार्यक्रम स्वीप की ब्रांड एंबेसडर भी नियुक्त की गईं थीं। एक प्रभावशाली वक्ता के रूप में भारत, अमेरिका, इंग्लैंड, कनाडा, इटली, मलाशिया, रूस आदि देशों में 400 से अधिक टॉक्स और रेडियो व टीवी साक्षात्कार दे चुकी हैं। दिल्ली से प्रकाशित उनकी प्रेरणादाई पुस्तक बियोंड दैट वॉल: रिडेंप्शन ऑन एवरेस्ट को एशिया के सबसे बड़े पुस्तक मेला अंतरराष्ट्रीय कलकत्ता पुस्तक मेला में सम्मिलित किया गया था, तथा उसके लिए उन्हें साहित्य श्री एवं मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल लखनऊ द्वारा यंग राइटर अवार्ड प्रदान किया गया था। 2023 में उनकी हिंदी कविताओं की पुस्तक दायरों के बाहर, तथा अंग्रेजी कविताओं की पुस्तक द सोंग ऑफ़ द स्काई, एवं उनके शोध कार्य पर आधारित पुस्तक शेरपास ऑफ़ सोलुखुंबू: हिस्ट्री एंड इवोल्यूशन, दिल्ली से प्रकाशित हुई हैं। स्क्वाड्रन लीडर डॉ तूलिका रानी वर्ष 2024 में दूसरी बार गणतंत्र दिवस समारोह का हिस्सा बनेंगी। इसके पूर्व वह 2015 में भारतीय वायु सेना में कार्यरत रहते हुए कर्तव्य पथ पर रक्षा मंत्रालय की माउंट एवरेस्ट झांकी पर एवरेस्ट अरोहनकर्ता के रूप में समिल्लित हुईं थीं। महिलाओं को समान शिक्षा तथा अधिकार की शसक्त आवाज़ स्क्वाड्रन लीडर डॉ तूलिका ने गणतंत्र दिवस पर केंद्र सरकार द्वारा आमंत्रण के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह उन सभी महिलाओं का सम्मान है जो विपरीत परिस्थितियों के बावजूद अपनी प्रतिभा का उपयोग कर अपने देश का नाम रौशन कर रहीं हैं। यह अन्य बच्चियों को भी सेना या खेलकूद में जाने, अथवा अन्य अपरंपागत क्षेत्रों में अपनी जगह बनाने के लिए प्रेरित करेगा तथा समाज को बेटियों को बराबर स्थान देने के लिए भी सजग करेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *