हिंदी भाषा में एकता का सामर्थ्य है

हिंदी भाषा में एकता का सामर्थ्य है
लखनऊ। आई टी कॉलेज के हिंदी विभाग के तत्वावधान में आज 14 सितंबर हिंदी दिवस समारोह का आयोजन किया गया।कार्यक्रम की मुख्य अतिथि वरिष्ठ पत्रकार मंजू श्रीवास्तव, संपादक न्यूज़ फोटो मैगजीन फोटो वॉइस थी।अपने वक्तव्य में वरिष्ठ पत्रकार मंजू श्रीवास्तव ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि भारतवर्ष के लिए एक राष्ट्रीय भाषा की स्थापना करनी है ,क्योंकि सबके लिए समान भाषा राष्ट्रीयता का महत्वपूर्ण अंग है और हिंदी भाषा में एकता का सामर्थ्य है, महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ विनीता प्रकाश ने हिंदी के महत्व और प्रचार प्रसार की दिशा में सक्रिय भूमिका बनाए रखने पर बल देते हुए हिंदी भाषा का अधिकाधिक प्रयोग करने को कहा जिससे लोक जागरण की महती जिम्मेदारी को पूरा किया जा सके साथ ही हिंदी विभाग की अध्यक्ष डॉ नीतू शर्मा ने छात्राओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि हिंदी स्वाभिमान की भाषा है और आत्मनिर्भरता का आधार हिंदी के मजबूत कंधों पर ही सशक्त हो सकता है हिंदी को लेकर रोजगार की अनंत संभावनाएं हैं ,सिनेमा जगत, पत्रकारिता ,कॉपीराइटिंग ,
शिक्षण ऐसे क्षेत्र हैं जहां पर हिंदी का बोलबाला है आवश्यकता है कि हम इस दिशा में आगे बढ़े । कार्यक्रम में सरस्वती वंदना से शुभारंभ करते हुए छात्राओं ने काव्य पाठ किया कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण जगदीश चंद्र माथुर कृत एकांकी रीढ़ की हड्डी का मंचन था जो काफी सराहनीय रहा इस एकांकी के माध्यम से छात्राओं ने संदेश दिया कि दहेज जैसी कुप्रथा और स्त्री शिक्षा के महत्व को हम नकार नहीं सकते आज के इस दौर में जहां नारी सशक्तिकरण के विभिन्न आयाम देखे जा सकते हैं वहां आवश्यकता है कि हम सभी शिक्षित होकर समाज के सभी वर्ग को जागरूक करें और यही कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य था छात्राओं में सुदीक्षा ,आयुषी स्नेहा, वैशाली, अंशी ,सुप्रिया और लक्ष्मी गिरी आदि ने अत्यंत उत्साह के साथ कार्यक्रम में सहभागिता की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *