पंजाब नैशनल बैंक ने फिनटेक इनोवेशन सेंटर स्थापित करने के लिए आईआईटी कानपुर और फर्स्ट के साथ गठबंधन किया

कानपुर, देश के प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, पंजाब नैशनल बैंक (PNB) ने प्रतिष्ठित
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), कानपुर और फर्स्ट (फाउंडेशन फॉर इनोवेशन एंड रिसर्च इन साइंस एंड
टेक्नोलॉजी) के साथ संयुक्त रूप से आईआईटी परिसर में पंजाब नैशनल बैंक – आईआईटी कानपुर इनोवेशन सेंटर स्थापित करने के लिए गठबंधन की घोषणा की है।
पीएनबी के एमडी एवं सीईओ  सीएच. एस. एस. मल्लिकार्जुन राव, और बैंक तथा आईआईटी कानपुर एवं
फर्स्ट के उच्चाधिकारियों की गरिमामय उपस्थिति में पंजाब नैशनल बैंक के हेड क्वार्टर, द्वारका, नई दिल्ली में एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए।

इस साझेदारी के अन्तर्गत, पीएनबी और आईआईटी कानपुर “फिनटेक इनोवेशन सेंटर (एफआईसी” की स्थापना करेंगे जो चुनौतियों का समाधान करने और बीएफएसआई में अवसरों का पता लगाने के लिए नवीन समाधान को प्रोत्साहित करने के लिए एक वाहन के रूप में कार्य करेगा। पंजाब नैशनल बैंक, आईआईटी कानपुर में फिनटेक इनोवेशन सेंटर बनाकर आईआईटी कानपुर के अनुभवी संकाय सदस्य एवं फर्स्ट की मदद से तकनीकी चुनौतियों का सामना करने के लिए कुछ आर एंड डी सिस्टम और नए उत्पाद बनाने और विकसित करना चाहता है।
आईआईटी कानपुर के तकनीकी कौशल और पीएनबी की वित्तीय विशेषज्ञता की साझेदारी इसे एक उपयुक्त
“फिन-टेक” साझेदारी बनाती है जो नवाचारों और उद्यमशीलता की उत्कृष्टता में मदद करेगी। फिनटेक इनोवेशन सेंटर को वित्तीय संस्थानों के समग्र इको सिस्टम, शिक्षाविदों, वी सी कोष, प्रौद्योगिकी कंपनियों और प्रमुख सरकारी संगठनों के द्वारा समर्थित किया जाएगा।

नियोजित फोकस क्षेत्र में फिनटेक, डिजिटल लेंडिंग, पेमेंट्स, साइबर सिक्योरिटी, आदि शामिल है। बैंक को
आईआईटी-कानपुर द्वारा लगाए गए फिन-टेक के पूल तक उनके अभिनव समाधानों के साथ पहुंच प्राप्त होगी।
इस अवसर पर पंजाब नैशनल बैंक के एमडी एवं सीईओ  सीएच.एस.एस.मल्लिकार्जुन राव ने कहा कि “यह पीएनबी और आईआईटी कानपुर के लिए एक महत्वपूर्ण दिन है,जहां हम देश के प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों को बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं में विशेषज्ञता लाने के लिए एक साथ आएं है। यह पंजाब नैशनल बैंक और वित्तीय पारिस्थितिकी तंत्र के लिए तकनीकी समाधान विकसित करने हेतु आईआईटी कानपुर द्वारा शुरू की गई स्टार्ट- अप और फिनटेक कंपनियों को एक अवसर प्रदान करेगा। हमें ग्राहकों के विभिन्न क्षेत्रों अर्थात रिटेल, कृषि, एमएसएमई आदि को फॉरवर्ड और बैकवर्ड लिंकेज के साथ सर्वोपयोगी समाधान प्रदान करने की आवश्यकता है। प्रत्येक लिंक पर डिजिटल या भौतिक स्पर्श बिंदुओं के माध्यम से ग्राहकों की आवश्यकताओं को पूरा करने में अंतिम मील कनेक्ट और टर्न अराउंड टाइम (टीएटी) सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है। परिधीय समाधान, ओपन बैंकिंग आदि के माध्यम से ग्राहक और बैंक के बीच लिंक का विस्तार करने के लिए फिनटेक के उद्यमी और स्टार्टअप, ग्राहक केन्द्रित प्रौद्योगिकी समाधान को विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं ”
इस अवसर पर आईआईटी कानपुर के प्रोफ़ेसर अमिताभ बंद्योपाध्याय ने कहा, “आईआईटी कानपुर में पीएनबी-एफआईसी की स्थापना के साथ, बैंक के लिए उन्नत समाधान विकसित करने के लिए फिनटेक से संबंधित नव- तकनीकों में विश्व स्तरीय अनुसंधान किया जाएगा”।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *