दो दिवसीय राश्ट्रीय संगोश्ठी का समापन


लखनऊ। श्री गुरू नानक गल्र्स डिग्री कालेज द्वारा दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन आषियाना स्थित चांसलर क्लब में किया गया। सेमिनार में प्रथम दिवस के मुख्य अतिथि और अन्य अतिथियों के रूप में उपस्थित सभी सम्मानीय जनों का स्वागत महाविद्यालय के प्रबन्धक स0 इन्दरमोहन सिंह एवं महाविद्यालय की प्राचार्या डा0 सुरभि जी0 गर्ग द्वारा किया गया। उक्त राष्ट्रीय सेमिनार का उद्घाटन 29 मार्च को मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित लखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया और अन्य अतिथिगणों द्वारा द्वीप प्रज्जवलन के साथ हुआ इस अवसर पर छात्राओं द्वारा सरस्वती वन्दना और महाविद्यालय की दैनिक प्रार्थना ‘‘देहि-षिवा वर‘‘ गाकर किया गया। साथ ही महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा ‘‘सरस्वती वन्दना‘‘ का भी गायन किया गया । राष्टीय संगोष्ठी की सह-संयोजिका प्रियंका मजूमदार द्वारा स्वागत भाषण दिया गया। तत्पष्चात् उक्त सेमिनार की संयोजिका व महाविद्यालय की प्राचार्या डा0 सुरभि जी0 गर्ग द्वारा संगोष्ठी के मुख्य विषय पर अपना पेपर प्रस्तुत किया गया। उक्त अवसर पर राष्टीय सेमिनार की मुख्य संयोजिका महाविद्यालय की प्राचार्या डा0 सुरभि जी0 गर्ग द्वारा संगोष्ठी के मुख्य विषय पर अपना पेपर प्रस्तुत किया गया। उक्त राष्टीय सेमिनार का उद्घाटन मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित लखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया एवं अतिथिगणों द्वारा दीप प्रज्जवलन के साथ हुआ। साथ ही महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा सरस्वती वन्दना का भी गायन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि और अन्य अतिथियों के रूप में उपस्थित सभी का स्वागत महाविद्यालय के प्रबन्धक स0 इन्दरमोहन सिंह जी एवं महाविद्यालय की प्राचार्या डा0 सुरभि जी0 गर्ग द्वारा किया गया। संगोष्ठी में उपस्थित अतिथिगणों में आईआईएम लखनऊ के प्रो0 देवाषीष दासगुप्ता ने भारत में आर्थिक सुधारों के सन्दर्भ में व्याख्यान दिया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि मेयर संयुक्ता भाटिया द्वारा उद्घाटन भाषण दिया गया। अपने भाषण में उन्होंने भारत की अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भूमिका को अहम बतायाय साथ ही गृहसथी के बजट निर्धारण में भी महिलाओं की भूमिका को महत्वपूर्ण माना। उन्होंने भारतीय अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने के संदर्भ में भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की विभिन्न स्कीमों में जीएसटी और डिजीटल इंडिया को भी महत्वपूर्ण बताया। उक्त अवसर पर प्रबन्धक समिति के सदस्य स0 जसमिन्दर सिंह जी द्वारा मुख्य अतिथि को सरोपा और उपहार देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में लखनऊ विष्वविद्यालय के पूर्व उप-कुलपति प्रो0 ए0के0सेनगुप्ता ने देष में आर्थिक सुधारों के विभिन्न स्तरों पर उत्पन्न होने वाली समस्याओं के मुख्य मुद्दों को समझने की जरूरत पर बल दिया। तत्पष्चात् बाबा साहेब भीमराव अम्बेडर विष्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो0 एन0एम0पी0 वर्मा ने एक अच्छे जीवन स्तर की प्राप्ति के लिए और जीवन में प्रसन्न रहने तथा सफलता प्राप्त करने के लिए सुधारों की आवष्यकता पर बल दिया। सम्बोधन की इसी श्रंखला में लखनऊ विष्वविद्यालय के वाणिज्य विभाग के डीन प्रो0 सोमेष षुक्ला ने देष में आर्थिक सुधारों के सन्दर्भ में नोटबन्दी व जी0एस0टी0 पर चर्चा की तथा देष के विकसित करने के विभिन्न मुद्दों के बारे में भी बताया। उक्त कार्यक्रम में एमिटी विष्वविद्यालय की बिजनेस एडमिन्सिटेषन विभाग की प्रो0 अल्पना श्रीवास्तव जी द्वारा भारतीय अर्थव्यवस्था में सुधार के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गयी तथा अर्थव्यवस्था को मजबूत करने सम्बन्धी विभिन्न उपयोगी नीतियों से सभी को अवगत कराया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *